किसे के दोस्त शिमला जाण कि जिद करैं
किसे के दोस्त कुल्लू मनाली जाण कि जिद करैं
आपणे दोस्ता कि तो एक डिमांड सै कि
भाई चाल टयुबैल पै न्हाण चालां गे

बस में एक आदमी घनी देर त खड़ा था
जब वो खड़ा खड़ा थक गया तो
उसने पास आली सीट पर बैठे एक हरियाणवी तै पूछा
भाई साहब क्या मैं आपको थोड़ी तकलीफ़ दे सकता हूँ
हरियाणवी बोल्या : दे के देख मरी सासू के

माहरे हरयाणे म दो चीज़ बौत खतरनाक स
1 जाटणी की जूती
2 बयाई होई कुत्ती

सुण छोरी म्हारी के रीस करेगी
हाम तो LOL लीखण की जगह किलकी मारणीए माणस सैं

कई छोरे तो छोरी की आईडी बना के इतने सक्रीय रह्वे है
जे माँ बुलावे तो केहवेगे आई माँ

एक भाई का स्टेटस म्हारी के रीस करोगे
हम तो तुड़ी भी 500 रपिये मीटर आला कपडे की पल्ली बना के गेडा हा

टीचर:अगर कोई मोटी लड़की पलट के वापस आए तो
इस सेंटेन्स को इंग्लीश मे क्या कहेंगे
रलदु: जी गोल माल रिटर्न्स

हिन्दी मेँ कहते है :- धूप मेँ निकला ना करो गौरा रँग काला ना पङ जाए
और म्हारे हरियाणा म्ह :-तु घाम मैँ काली हो ज्यागी चाल्या कर ढाठा मार के

मास्टर (सुंडू ते ) जिस आदमी ने सुणता कोन्या
उसने अंग्रेजी में के कहवैंगे
सुंडू :- मास्टर जी उसने चाहे मामा कह द्यो
उसने कुणसा कुछ सुनेगा

Chotu:- आरी माँ तु मन्ने बावला क्यूं बनावे है तु झूठ बोली मेरै तैं
Mom :- I told to u every time please speak in English
Chotu :- Ok Mom u lied to me
Mom :- When my son
Chotu :- U said that my younger sis is an angel
Mom :- Yes she is
Chotu :- So why didnt she fly when I threw her from our balcony
Mom :- रै कुते कित फेंक आया छोरी न

राजी रहो मजे ल्यो
हँसते रहो और हँसाते रहो
यारो मौज ल्यो अर रोज ल्यो

नजरे झुका कर बात कर पगली जितने कपड़े है तेरे पास
उतने तो मै रोज लफड़े मे फाड़ देता हु

हमारे हरयाणा वालो की भी खाश आदत है
जे कोए आदमी सुतया होगा नी उसने ठा क पूछेगे र सुताया था के

सूंडू -बाबू यो साढू का के मतलब हो सै
रामफल- बेटा साढू मतलब एक ए कम्पनी तै धोखा खाए होड़े दो ग्राहक

सारी छोरीया त मेरी हाथ जोड़ क विनती स
रात न जल्दी सो जावै
क्योंकि सुबह-सुबह कई छोरा न धार काढणी पडे सै।