जो खानदानी रईस हैं वो, रखते हैं मिजाज़ नर्म अपना
तुम्हारा लहजा बता रहा है तुम्हारी दौलत नई नई है

मै बैठूंगा जरूर महफ़िल में पर पीऊंगा नही
क्योंकि मेरा ग़म मिटा दे इतनी शराब की औकात नही
er kasz

Tu Udas Na Raha Kar Tujhe Wasta Hai Khuda Ka
Ek Tera He Chehra Khush Dekh Kar Hum Apne Gham Bhula Dete Hain

उन्हें लगता है कि उनकी चालाकियां हमे समझ नही आती
और हम बड़े आराम से देखते हैं उन्हें अपनी नजरों से गिरते हुए

दिल भी आज मुझे ये कह कर डरा रहा है
करो याद उसे वरना मै भी धडकना छोड़ दूंगा

किसी के दिल में क्या छुपा है ये बस खुदा ही जानता है
दिल अगर बेनकाब होता तो सोचो कितना फसाद होता
Er kasz

ना जाने क्या कमी है मुझमें ना जाने क्या खूबी है उसमें

वो मुझे याद नहीं करती मैं उसको भूल नहीं पाता

ताकत के संग नेक इरादे भी रखना
वरना ऐसा क्या था जो रावण हार गया
er kasz

Matt Pochou Kesey Guzrta Hy Her Pal Tere Bina
Kabhi Bat Karney Ki Hasrat Kabhi Dekhne Ki Tamna

झूठा वादा ही हसी दिल तो बहल जाता है
वर्ना हम आपकी इस हां को नहीं जानते है क्या

माना की बुरा हु
लेकिन इतना भी नहीं की याद भी न आउ

मुझे जो पसंद हो उसे छोड़ता नहीं
पर डरो नहीं फूलों को मै तोड़ता नहीं

मोहब्बत में भले ही लड़ाई हो
मगर कभी न जुदाई हो

Jitna Chirka Hai Namak Tu Ne ZakhMo0n Pr
Itna Khaya To Nahi Tha "Namak Tera

Ek Choti Si Galti Par Tu Mujhe Chor Gaya
jaisey Tu Sadiyon Se Meri Galti Ki Talaash Mai Tha