ིइतना तो दर्द मुझे जिन्दगी तूने दिया ही नहीं था
जितना बदनाम मैने तूझे वाह वाहीया बटोरने के लिए कर दिया
er kasz

जिंदगी भी "टेम्पल रन" और "सब्वे सर्फर" जैसी हो गयी है
भागते दौड़ते पैसे कमा रहे हैं पर पता नहीं की जाना कहा ह

अगर मेरी शायरियों से बुरा लगे तो बता देना दोस्तों
मैं दर्द बाँटने के लिए लिखता हूँ दर्द देने के लिए नही
Er kasz

उसका वादा भी अजीब था कि जिन्दगी भर साथ निभायेंगे
मैंने भी ये नहीं पुछा की मोहब्बत के साथ या यादों के साथ
Er kasz

मेरी मुस्कराहटें इस कदर जो तुमको चुभ रही है
देख लेना एक दिन रो पड़ोगे मेरी खामोसी जब तुम्हारा इम्तहा लेगी

तू एकबार मेरी निगाहो मे देख कर कह दे कि हम
तेरे काबिल नहीं कसम तेरी चलती साँसो की हम तुझे देखना तक छोङ देँगेँ

किसी ने कहा है एक तरफ़ा प्यार कभी ख़त्म नहीं होता
पर किसी ने भी ये नहीं कहा एक तरफ़ा प्यार कभी पूरा नहीं होता

लाख हों हम में प्यार की बातें ये लड़ाई हमेशा चलती है
उसके इक दोस्त से मैं जलता हूँ मेरी इक दोस्त से वो जलती है

कोई दावत तो उसे दे आए जाकर जनाज़े में मेरे शरीक़ होने की
आखिरी सफर में ही सही हमसफ़र बनाने की आरज़ू तो पूरी हो

वो कहती हैं तुम छोड क्यों नही जाते,इतनी तकलीफ देती हुं तो
मैंने कहा साँस लेने में उलझन आए तो क्या जीना हीं छोड दुं

जिन्दगी मे इतनी गलतीया मत करो कि पेन्सिल से पहले रबड घिस जाए
और रबड़ को इतना मत घिसो की जिन्दगी का पेज ही फट जाए
er kasz

मोहब्बत भी तूने क्या चीज़ बनायी है
ए-खुदा
तेरी ही मस्जिद में तेरा ही बंदा तेरे ही सामने रोता है किसी और के लिये !!

माना कि बहुत कीमती हूँ मैं इन दुनिया वालों के लिए ...!!
पर चंद लम्हों से ज़्यादा कोई ना रोयेगा मेरे गुज़र जाने के बाद ...!!

वो वाकिफ है मेरी बुज़दिली से इसी लिये ये सितम करता है
वो जानता है मौत से ये शक्स डरता नही पर उसके दूर जाने से डरता है

जो लोग दूसरों को पढ़ते और समझते हैं वो बुद्धिमान होते हैं,
लेकिन जो लोग खुद को पढ़ते और समझते हैं वो प्रबुध्ध होते हैं।