Hum me to khair himmat hai itna dukh sehne ki

Tum itna dukh dete ho thak to nahi jate

Na rha kro udas kisi bewaffa ki yad mein
Wo khush hai apni duniya mein Teri duniya ujar kr
er kasz

Ajeeb Zulm Hue Hain Mohabbat Par Yaaro
Jinhe Mili Unhein Kadar Nahi Jinhe Kadar Thi Unhein Mili
Nahi

मोहब्बतें अधूरी रह जाती है
तभी तो शायरियां पूरी होती है

चाहे कितनी भी तकलीफ दे इश्क़
पर सुकून भी इश्क़ से ही होता है

बेवफाई तो सभी कर लेते है जानेमन
तू तो समझदार थी कुछ तो नया करती

तू बदनाम ना हो इसलिए जी रहा हुँ मै
वरना मरने का इरादा तो रोज होता है

बेमतलब की जिंदगी का सिलसिला ख़त्म
अब जिस तरह की दुनियां उस तरह के हम

इसी बात ने उसे शक मेँ डाल दिया हो शायद
इतनी मोहब्बत उफ्फ कोई मतलबी ही होगा

नींद से क्या शिकवा जो आती नहीं रात भर.....
कसूर तो उस चेहरे का हैं जो सोने नहीं देता....

क्या जरूरत है मुझे परफ्यूम लगाने की,
तेरा ख्याल ही काफी है मुझे महकाने के लिए।💞💞 Er kasz

जब बिखरेगा तेरे रूखसार पर तेरी आँखों का पानी
तुझे एहसास तब होगा मोहब्बत किस को कहते है

वाह वाह बोलने की ‪आदत‬ डाल लो दोस्तों
मै ‪मोहब्बत‬ में अपनी ‪‎बरबादियां‬ लिखने वाला हुं

कोई मुझ से पूछ बैठा बदलना किस को कहते हैं
सोच में पड़ गया हूँ मिसाल किस की दूँ मौसम की या तेरी

ये मोहब्बत के हादसे अक्सर दिलों को तोड़ देते हैं
तुम मंज़िल की बात करते हो लोग राहों में छोड़ देते हैं