बहुत पुरानी कहावत है . . . . . . . . . . . . अब याद नहीं आ रही।

टीचर: लोफर और ऑफर में क्या फर्क है? स्टूडेंट: बहुत आसान है लड़का आई लव यू बोले तो लोफर और लड़की आई लव यू बोले तो ऑफर!

गाँव के एक सरपंच ने वाटर सप्लाई के अफसर से शिकायत की कि हमारे गाँव में कई दिनों से पानी नही आ रहा है जिसकी वजह से गाँव के लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। अफसर: देखो सरपंच साहब मै आप की बात बिल्कुल नही मान सकता कि आपके गांव में पानी नहीं आ रहा है। सरपंच: क्यों नही मान सकते? अफसर: क्योंकि आप के गांव का दूध वाला मुझे हर रोज़ पानी मिला दूध दे कर जाता है।

दुनिया में धोखा आम बात है। अब सूरज को ही देख लो: आता है किरण के साथ; रहता है रोशनी के साथ; और जाता है संध्या के साथ।

एक गंजे के सिर पर 7-8 बाल उग आये! नाई: सर इन्हें काटूं या गिनूं? गंजा: नहीं डाई कर दो!

कश्मीर की वादियों में और बर्फीली हवाओं में; झील के किनारे बैठी गर्लफ्रेंड ने पप्पू से कहा कि: . .. ... हीरो मत बन स्वेटर पहन ले।

ट्रेन पर बैठी एक लड़की ने प्लेटफोर्म पर खड़े एक लड़के से पूछा ये कौन सा स्टेशन है? लड़का: एक किस देगी तब ही बताऊंगा। . .. ... लड़की: हे भगवान मतलब दिल्ली आ गया।

अगर किसी मोटी लड़की को देखकर सीटी बजाओ और वो पलटकर वापिस आ जाये तो उसे क्या कहेंगे? गोल माल रीटर्न!

एक छोटी सी मछली ने अपनी माँ से पूछा: हम ज़मीन पर क्यों नहीं रहते? माँ बोली: बेटा पानी फिश के लिये है और ज़मीन सेल्फिश के लिये!

जली को आग कहते हैं; बुझी को राख कहते हैं; फोम को झाग कहते हैं; स्नेक को नाग कहते हैं; सब्जी को साग कहते हैं; और जो लड़कियों के पास नहीं होता; उसे दिमाग कहते हैं!

उस आशिक का दर्द भगवान भी नही समझ सकते
जिसकी गर्लफ्रेन्ड का रिचार्ज करवाने के बाद भी वो उसे फोन नही करती

मालकिन गुस्से में नौकर से : तुम काम ठीक ढंग से किया करो! नौकर : देखिये मैडम मैं आपका नौकर हूँ पति नहीं! मुझसे तमीज़ से बात कीजिये!

माँ: बेटा आज तेरी बीवी चुप क्यों बैठी है? बेटा: उसने लिपस्टिक मांगी थी मैंने फेवी क्विक दे दी! नो चिप चिप नो झिक झिक!

अध्यापिका: मैं तुम्हारी जान निकाल दूँगी इसे इंग्लिश में बताओ? . .. ... हरयाणवी बच्चा: तो इंग्लिश ने छोड़ मंने हाथ तो ला के देख?

पोता: दादा जी कंडोम क्या होता है? दादा: चल भाग मुझे नहीं पता! पोता: मुझे पता है दादा जी आपको पता होता तो आज जायदाद के 14 हिस्से नहीं होते!