क्या दूध पीने से ताकत आती है
5 ग्लास दूध पियो फिर दीवार हिलाने की कोशिश करो नही हिलेगी
अब 5 कैन बियर पियो और सिर्फ दीवार की तरफ देखो
दीवार अपने आप ही हिलने लगेगी

दिल दो किसी एक को; वो भी किसी नेक को; जब तक मिल ना जाए कोई; ट्राई करते रहो हर एक को।

जली को आग कहेते है, ओर बुझी को राख कहते हे,
जिसका आप photo देख रहे हे, उसे Daud Ibrahim का बाप कहते हे.

कौन कहता है बुढ़ापे में इश्क का सिलसिला नहीं होता
आम मीठा नहीं होता जबतक पिलपिला नहीं होता

एक क्लास में एक जाट था
मैडम बोली - बेटा कापी पै ऋषि लिख कै दिखाओ"
इब जाट के बेटे नै "ऋ" लिखणा ना आवै था मैडम के मुँह कानी देख कै बोला- ऋषि की जगहां बाबा लिख दयूं के

धोखा मिला जब प्यार में;​ जिंदगी में उदासी सी छा गई;​​ सोचा था छोड़ देंगे इस राह को;​ कम्भख्त मोहल्ले में दूसरी आ गई।

​मेरे दोस्त तुम भी लिखा करो शायरी;​तुम्हारा भी मेरी तरह नाम हो जाएगा;​जब तुम पर भी पड़ेंगे अंडे और टमाटर;​​​तो शाम की सब्जी का इंतज़ाम हो जाएगा।

कभी टूट कर बिखरो तो मुझे याद कर लेना दोस्तों
एक वेल्डिंग वाला मेरे पहचान का है

बहुत खूबसूरत हो तुम; खुद को दुनिया की बुरी नज़रों से बचाया करो; सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं; गले में नींबू मिर्च और चप्पल भी लटकाया करो।

दोस्त रूठे तो रब रूठे फिर रूठे तो जग छूटे; अगर फिर रूठे तो दिल टूटे और अगर फिर रूठे? तो निकाल डंडा; मार साले को जब तक डंडा न टूटे!

कुछ लड़कियां गर्मी को लेकर इतना हाय तौबा मचा रहे है
जैसे पिछली गर्मी उसने स्वीटजरलैँड मेँ बितायी हो
G.R..s

जब तक लड़की भाव नहीं देती
तब तक वो अकड़ू घमंडी बंदरिया होती है
पर जैसे ही भाव देना शुरू शोना परी जानू

वो कया सहेगी प्यार के दर्द को कल
Acitva से गिरी थी अभी तक रो रही है

बोतल छुपा देना कफ़न में मेरे; शमशान में बैठ कर पिया करूँगा; खुदा मांगेगा जब हिसाब मुझसे; एक एक पैग बना कर दिया करूँगा!

वो मंदिर भी जाता है और मस्जिद भी: परेशान पति का कोई मज़हब नहीं होता।