माँ बाप की सेवा सफलता की
सीढ़ी का सबसे
मजबूत डंडा
है...
इसको अगर छोड़ दिए तो कभी ऊपर नही
उठ
सकते ।।

अपनी आदतों के अनुसार चलने में इतनी गलतियाँ नहीं होती हैं
जितनी दुनिया का लिहाज रखकर चलने में होती हैं

मेरे पापो की सजा कुछ इस कदर बढ़ गयीं है कि
मैं कभी तनहा नहीं रहता अब लोगो कि बद्दुआयें हमेशा साथ रहती है

इंसान ज़िंदगी में सिर्फ एक बार मोहब्बत करता है
और बाकी मोहब्बतें पहली मोहब्बत को भुलाने के लिए करता है

फुर्सत नहीं इंसान को घर से
मंदिर तक आने की..
और,
ख्वाहिशे रखता है
शमशान से सीधा स्वर्ग
तक जाने की..!

रोये वो इस कदर उनकी लाश से लिपट कर कि लाश खुद उठकर बोली
ले तू मरजा पहले ऊपर ही चढ़े जा रही है इतनी गर्मी मैं

मैंने ये सोचकर‪#‎उसकी‬सारी बातो को‪#‎सच‬मान लिया की...❁ ❁ ❁ ❁ ❁ईतनी‪#‎अच्छी‬है तो‪#‎झुठ‬कैसे बोलेगी...____________________________

आजकल की लड़कीया अगर गंगा स्नान करने जाये.....
तो पहले फोटो खींचकर स्टेटस अपडेट करेंगी ....
Bathing @ गंगा...
feeling #पवित्र😂😂

आप और तुम में बहुत फर्क होता है
आप के सामने दुःख बयान नहीं किया जा सकता
पर तुम के सामने दिल खोल कर रख सकते हैं

💕💕 रुखसत हुए तेरी गली से हम आज कुछ इस कदर..
लोगो के मुह पे राम नाम था..
और मेरे दिल में बस तेरा नाम था..💕💕

गुफ्तगुँ करते रहा कीजिए,
यही इंसानी फितरत है।
वरना बंद मकानों में
अक्सर जाले लग जाते हैं...।
💕☝

मोबाइल के एक फोल्डर में तेरी तस्वीरें इकठ्ठा की है मैंने
बस इसके सिवा और ख़ास कुछ जायदाद नहीं है मेरी

मैं मशहूर होके भी क्या करूँ ए दोस्त इस बस्ती में
मेरे सारे ख्वाब बहा दिए मैंने रख के एक डूबती कश्ती में

किसी ने मुझ से कहा बहुत खुबसूरत लिखते हो यार
मैंने कहा खुबसूरत मैं नहीं वो है जिसके लिए हम लिखा_करते_है

कह देना तेरी गली मे रहने वालो से कि अपनी औकात मे रहै
वरना जिस दिन ये कमीना बिगडा ना तो शहर भी अपना और तू भी अपनी