मथुरा की खुशबू गोकुल का हार; वृन्दाबन की सुगंध बरसाने की फुहार; राधा की उम्मीद कन्हया का प्यार; मुबारक हो आपको होली का त्योंहार।

अगर किसी के पास गब्बर सिंह का नंबर है तो उसे बता देना कि 16 और 17 मार्च को होली है। वरना तंग करता रहेगा- होली कब है ? कब है होली कब ?

हमेशा मीठी रहे आपकी बोली; खुशियों से भर जाए आपकी झोली; आप सबको मेरी तरफ से - हैप्पी होली।

होली होली होली है उसे दिवाली मत समझना। हम तुम्हारे घर आयें तो हमें मवाली मत समझना। हैप्पी होली!

खा के गुजिया पीके भंग! लगा के थोड़ा थोड़ा सा रंग! बजा के ढोलक और मृदंग खेले होली हम तेरे संग होली मुबारक हो!

खा के गुजिया पीके भंग लगा के थोड़ा थोड़ा सा रंग बजा के ढोलक और मृदंग खेले होली हम तेरे संग होली मुबारक हो!

गुल ने गुलशन से गुलफाम भेजा है सितारों ने आसमान से सलाम भेजा है मुबारक हो आपको होली का त्यौहार हमने दिल से यह आपको पैगान भेजा है!

लो खत्म हुई रंग-ऐ-गुलाल की शोखियां; चलो यारो फिर बेरंग दुनिया में लौट चले।

गुलों में रंग भरे बाद-ए-नौबहार चले; चले भी आओ कि गुलशन का कारोबार चले! होली मुबारक!

मक्की की रोटी निम्बू का अचार! सूरज की किरणें अपनों का प्यार! मुबारक हो आपको होली का त्यौहार!

पिचकारी की धार गुलाल की बौछार; अपनों का प्यार यही है होली का त्यौहार। होली की आपको शुभ कामनाएं।

लाल गुलाबी नीला और पीला; हाथों में लिया समेट; होली की दिन रंगेगे सजनी; करके मीठी भेंट। होली मुबारक।

पिचकारी की धार; गुलाल की बौछार; अपनों का प्यार; यही है होली का त्योहार। मंगलमय होली की शुभ कामनाएं।

कबीर ने कहा है! कल करे सों आज कर आज करे सों अब! नेटवर्क कल रहे न रहे फिर एस एम् एस करेगा कब! होली मुबारक हो!

बसंत ऋतु की बहार चली पिचकारी उड़ा गुलाल; रंग बरसे नीला हरा पीला और लाल; मुबारक हो आपको होली का यह त्यौहार!