हम इस तरह होली के रंग फैलाएंगे; कि सबके संग हम भी रंगों में धुल जायेंगे; इस बार होली का रंग और भी गहरा होगा; क्योंकि दोस्तों के साथ दुश्मन का भी रंग होगा। हैप्पी होली!

थोड़ा सा रंग थोड़ी सी ठंडाई; कृषण की पलटन बरसाना में आई; राधा की सहेलियों ने लट्ठ बरसाये; मस्करी में अय दोस्त हम होली मनायें। होली के त्यौहार का हार्दिक अभिनन्दन।

चाँद तारे छुप गए बीत गया अंधकार धुप सुनहरी देख कर जाग गया संसार; दिन आपका गुजरे अच्छा; करते है दुआ हज़ार; भेज रहे हैं आपको होली का प्यार! होली की हार्दिक शुभकामनायें!

होली आई सतरंगी रंगों की बौछार लायी; ढेर सारी मिठाई और मीठा मीठा प्यार लायी! आपकी ज़िन्दगी हो मीठे प्यार और खुशियों से भरी; जिसमे समाये सातों रंग; यही शुभकामना है हमारी!

इस होली के त्यौहार कुछ ऐसे मनाएंगे हम मेरे दोस्त; कि पिचकारी मेरी हो और रंग तेरा हो; मिठाई मेरी हो और गुलाल तेरा हो; राह चलती लड़की छेड़ूँ मैं और मुह काला तेरा हो। बुरा ना मानो होली है!

क्या हाल है? जिंदगी कैसी चल रही है? क्या बन रहा है? ये सब तो सब पूछते हैं मैंने सोचा कुछ नया ही पूछ लूं? . .. ... आज मुंह धोया क्या? चल छोड़ होली के रंगों में रंगने के बाद एक बार ही धो लेना। शुभ होली।

होली वही जो स्वाधीनता की आन बन जाये; होली वही जो गणतंत्रता की शान बन जाये; भरो पिचकारियों में पानी ऐसे तीन रंगों का; जो कपड़ो पर गिरे तो हिंदुस्तान बन जाये। होली की हार्दिक शुभकामनाएं।

होली आई सतरंगी रंगों की बौछार लायी; ढेर सारी मिठाई और मीठा-मीठा प्यार लायी; आप की ज़िंदगी हो मीठे प्यार और खुशियों से भरी; जिसमें समाए सातों रंग यही शुभकामनाएं हैं हमारी। होली की शुभकामनाएं!

होली आई सतरंगी रंगों की बौछार लाई; ढेर सारी मिठाई और मीठा मीठा प्यार लाई; आपकी जिंदगी हो मीठे प्यार और खुशियों से भरी; जिसमे समाएं हों सातों रंग; यही शुभकामना देते है इस होली पर हम। होली मुबारक!

होली तो बस एक बहाना है रंगों का ये त्यौहार तो है आपस में दोस्ती और प्यार बढ़ने का चल सारे गिले सिक्वे दूर कर के एक दुसरे को खूब रंग लगते हैं मिलकर होली मानते हैं! होली की आपको हार्दिक शुभकामनायें!

जो नफरत का कर दे उपचार वही होली है; जो माँ करे दुलार वही होली है; जिस के रंगों में रंग जाए सारा संसार वही होली है; जो आपसे मिलवाये बार-बार वही होली है। . .. ... अब शेर ही सुनते रहोगे या रंग भी लगाओगे! होली मुबारक हो!

जो नफरत का कर दे उपचार वही होली है। जो माँ करे दुलार वही होली है। जो दुनिया में बढाए प्यार वही होली है। जो एक रंग में रंग दे सारा संसार वही होली है। और जिस में मेरे साथ हो मेरा यार वही होली है। होली मुबारक।

होली पर अपने चेहरे को रंगों से सजाने की ज़रूरत क्या थी; इन हसीन नैन औ नक्श को रंगों के पीछे छुपाने की ज़रूरत क्या थी; हम तो कल भी आपको बन्दर समझते थे और आज भी आपको बन्दर ही समझते हैं; यह हकीकत ज़माने को बताने की ज़रूरत क्या थी?

लाल रंग आपके गालों के लिए; काला रंग आपके बालों के लिए; नीला रंग आपकी आँखों के लिए; पीला रंग आपके हाथों के लिए; गुलाबी रंग आपके सपनों के लिए; सफ़ेद रंग आपके मन के लिए; हरा रंग आपके जीवन के लिए; होली के इन सात रंगों के साथ; आपके पूरे परिवार को रंग भरी शुभकामनाएँ।