ज़िंदगी में टेंशन ही टेंशन है; फिर भी इन लबों पर मुस्कान है; क्योंकि जीना जब हर हाल में है; तो मुस्करा के जीने में क्या नुक्सान है।

जिंदगी की असली उड़ान अभी बाकी है; जिंदगी के कई इम्तिहान अभी बाकी हैं; अभी तो नापी है मुटठी भर ज़मीन आपने; आगे अभी सारा आसमान बाकी है।

रख हौसला वो मंजर भी आयेगा; प्यासे के पास चल के समुन्दर भी आयेगा! थक कर न बैठ ऐ मंजिल के मुसाफिर; मंजिल भी मिलेगी और मिलने का मज़ा भी आयेगा!

वक़्त बदल जाता है इंसान बदल जाते हैं; वक़्त वक़्त पे रिश्तों के अंदाज़ बदल जाते हैं; कभी कह दिया अपना तो कभी कर दिया पराया; दिन और रात की तरह ज़िंदगी के एहसास बदल जाते हैं।

जीवन एक साइकिल की सवारी की तरह है। अपने संतुलन को रखने के लिए हमें आगे बढ़ते रहना चाहिए।

जिंदगी में कुछ फैसले हम खुद लेते हैं और कुछ हमारी तकदीर। बस अंतर तो सिर्फ इतना है कि तकदीर के फैसले हमें पसंद नहीं आते और हमारे फैसले तकदीर पसंद नहीं करती।

जीना चाहता हूँ मगर जिंदगी रास नहीं आती; मरना चाहता हूँ मगर मौत पास नहीं आती; उदास हूँ इस जिंदगी से इसलिए क्योंकि; उसकी यादें तडपाने से बाज नहीं आती।

वो यारों की महफ़िल वो मुस्कुराते पल; दिल से जुदा है अपना बीता हुआ कल; कभी गुज़रती थी ज़िंदगी वक़्त बिताने में; अब वक़्त गुज़रता है चाँद कागज़ के नोट कमाने में।

ज़िन्दगी तो अपने दम पर ही जी जाती हे दूसरो के कन्धों पर तो सिर्फ जनाजे उठाये जाते हैं।

आलस्य दरिद्रता का मूल है।

जिंदगी जीना आसान नहीं होता; बिना संघर्ष कोई महान नहीं होता; जब तक न पड़े हथोड़े की चोट; पत्थर भी भगवान नहीं होता!

मौत सिर्फ नाम से बदनाम है वरना तकलीफ़ तो जिंदगी ही ज्यादा देती है; और बीवी भी सिर्फ नाम से बदनाम है वरना तकलीफ़ में सिर्फ वही साथ देती है।

ज़िंदगी में कभी उदास मत होना; कभी किसी बात पर निराश ना होना; ज़िंदगी है संघर्ष चलती ही रहेगी; कभी हार कर अपने जीने का अंदाज़ मत खोना।

छोटी सी जिंदगी है हंस के जिओ; भुला के सारे गम दिल से जिओ; उदासी में क्या रखा है मुस्कुरा के जिओ; अपने लिए न सही अपनों के लिए जिओ।

हद से बढ चुका है आपका नजर-अंदाज करना,,
ऐसा सलूक ना करो के हम भूलने पर मजबूर
हो जाए...!!