अपनी बेबसी पर आज रोना आया; दूसरों को क्या मैंने तो अपनों को भी आजमाया; हर दोस्त की तन्हाई हमेशा दूर की मैंने; लेकिन खुद को हर मोड़ पर हमेशा अकेला पाया।

ना दूर मुझसे जाया करो दिल तड़प जाता है; हमेशा तेरे ख्यालों में दिन गुज़र जाता है; दिल ने एक सवाल पूछा था तुमसे; क्या दूर रहकर तुम्हें भी मेरा ख्याल आता है।

ना दूर मुझसे जाया करो दिल तड़प जाता है; हमेशा तेरे ख्यालों में दिन गुज़र जाता है; दिल ने एक सवाल पूछा था तुमसे; क्या दूर रह कर तुम्हें भी मेरा ख्याल आता है।

ना दूर हमसे जाया करो दिल तड़प जाता है; आपके ख्यालों में ही हमारा दिन गुज़र जाता है; पूछता है यह दिल एक सवाल आपसे; कि क्या दूर रहकर भी आपको हमारा ख्याल आता है।

रिश्तों में दूरियां तो आती रहती हैं; फिर भी दूरियां दिलों को मिला देती हैं; वो रिश्ता ही क्या जिसमें नाराज़गी ना हो; पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना लेती है।

कदमों की दूरी से दिलों के फांसले नहीं बढ़ते; दूर होने से एहसास नहीं मरते; कुछ कदमों का फांसला ही सही हमारे बीच; लेकिन ऐसा कोई पल नहीं जब हम आपको याद नहीं करते।

सितारों को गिन कर दिखाना मुश्किल होता है; किस्मत में जो लिखा हो उसे मिटाना मुश्किल है; हमें आपकी ज़रूरत हो या ना हो; पर अहमियत आपकी लफ़्ज़ों में जताना मुश्किल है।