तनहा जब दिल होगा आपको आवाज़ दिया करेंगे; रात में सितारों से आपका जिक्र किया करेंगे; आप आयें या न आयें हमारे ख्वाबों में; हम बस आपका इंतज़ार किया करेंगे। गुड नाईट!

तन्हा जब दिल होगा आपको आवाज़ दिया करेंगे; रात में सितारों से आपका जिक्र किया करेंगे; आप आए या ना आए हमारे ख़्वाबों में; हम बस आपका इंतज़ार किया करेंगे। शुभ रात्रि!

आप जो सो गये तो ख़्वाब हमारा आएगा; एक प्यारी सी मुस्कान आपके चेहरे पर लाएगा; खिड़की दरवाज़े दिल के खोल कर सोना; वर्ना आप ही बताओ हमारा ख़्वाब कहाँ से आएगा! शुभरात्रि!

ये रात चाँदनी लेकर आपके आँगन में आये; ये आसमान के सारे तारे लोरी गा कर आपको सुलायें; हों आपके इतने प्यारे और मीठे सपने; कि आप सोते हुए भी सदा मुस्कुराएं। शुभ रात्रि!

दोस्त हो आप मेरे ये बात बताना चाहता हूँ; दोस्ती का एहसास आपको दिलाना चाहता हूँ; आप तो हमारे लिए हो एक चाँद जैसे; जिसे हर रात सोने से पहले देखना चाहता हूँ। शुभ रात्रि!

ना जाने क्यों इतनी जल्दी ये रात आ जाती है; बातों ही बातों में आपकी बात आ जाती है; हम तो बहुत सोने की कोशिश करते हैं; लेकिन ना जाने क्यों आपकी याद आ जाती है। शुभ रात्रि।

खुद में हम कुछ इस तरह खो जाते हैं; बीती हुई यादों को लेकर रोये जाते हैं; नींद तो आती नहीं है अब रातों में; मगर देख सकें तुमको ख्वाबों में इसलिए सो जाते हैं। शुभ रात्रि!

हो गयी है रात निकल आये हैं सितारे भी; सो गए हैं पंछी सारे शांत हो गए हैं नज़ारे भी; सो जाओ आप भी इस हसीन रात में; इंतज़ार में खड़े हैं यह सपने सिर्फ तुम्हारे ही। शुभ रात्रि!

चाँदनी लेकर ये रात आपके आँगन में आये; आसमान के सारे तारे लोरी गा कर आपको सुलायें; आपके इतने प्यारे और मीठे हों सपने आपके; कि आप सोते हुए भी सदा मुस्कुराएं। शुभ रात्रि!

ना जाने क्यों इतनी जल्दी यह रात आ जाती है; बातों ही बातों में आपकी याद आ जाती है; हम तो आपको शुभरात्रि कहना चाहते हैं; लेकिन ना जाने क्यों आपकी याद आ जाती है। शुभरात्रि!

इंग्लिश में बोले तो गुड नाईट ; उर्दू में बोले तो शब्बा खैर ; जर्मन में बोले तो गुटें निट ; स्पेनिश में बोले तो विल्ली वे डुरे ; और भी समझ न आये तो; बिलकुल हिंदी में सो जा अबे गधे ।

जैसे चाँद का काम है रात में रौशनी देना; तारों का काम है बस चमकते रहना; दिल का काम है अपनों की याद में धड़कते रहना; वैसे हमारा है काम अपनों की सलामती की दुआ करते रहना। शुभ रात्रि!

दर्द आपके इंतज़ार का हम चुप चाप सहते हैं; क्योंकि आप हर पल हमारे दिल में रहते हैं; ना जाने हमें नींद आएगी भी कि नही लेकिन; आप ठीक से सो सको इसलिए आपको गुड नाईट कहते हैं। गुड नाईट!

ज़िंदगी में हम आपसे कभी जुदा नहीं होंगे; जुदा होना भी चाहो तो हम होने नहीं देंगे; सुनहरी रातों में जब सताएगी हमारी याद; तब हमारी यादों के वो पल आपको सोने नहीं देंगे। शुभ रात्रि!

चाँद तारों से रात जगमगाने लगी है; फूलों की खुशबू भी दुनिया को महकाने लगी है; हो चुकी है अब यह रात गहरी; है खामोश अब चारों दिशाएं; लगता है इनको भी निंदिया रानी आने लगी है। शुभ रात्रि!