तू जहाँ भी रहे वहाँ मेरी दुआओं की छाँव हो; वो शहर हो फिर चाहे गाँव हो; तेरी आँखों में कभी कोई गम ना हो; बस यही दुआ है हमारी कि तेरी खुशियां कभी कम ना हों। शुभ रात्रि!

आपके बिछड़ने का गम हम चुपचाप सह लेंगे; आपकी जगह मेरे दिल में नहीं मेरी सांसो में है; खुदा जाने हमें नींद आएगी या नहीं; पर आप चैन से सो जाएं इसलिए आपको शुभ-रात्रि कहते हैं। शुभ रात्रि!

जीवन के हर मोड़ पर खुशियों को आने दो; जुबां पर हर वक्त मिठास को रहने दो; ना रहो उदास और ना किसी को रहनो दो। शुभ रात्रि!

अपनों के प्यार में दोस्तों की याद में; सलामत रहे ये ज़िंदगी हमारी; क़यामत हो ना हो; याद रहे सदा आप को हमारी। शुभ रात्रि!

दिल पे हमला हुआ और दिल टूट गया; कोई कहता है मनोबल छूट गया; सब के सब झूठे हैं साले; आँख खुली और हसीन सपना टूट गया। शुभ रात्रि!

रात जब किसी की याद सताए; हवा जब बालों को सहलाये; कर लो आँखे बंद और सो जाओ; क्या पता जिस का है ख्याल वो आँखों में आ जाये। शुभरात्रि!

रब तू अपना जलवा दिखा दे; उनकी ज़िन्दगी को भी अपने नूर से सजा दे; रब मेरे दिल की ये दुआ है; मालिक मेरे दोस्त के सपने हकीक़त बना दे। शुभ रात्रि!

क्यों किसी के ख्यालों में खोया जाए; क्यों किसी की यादों में रोया जाए; इस दुनिया के झमेले में पड़ना है बेकार यारों; चलो जी भर के सोया जाए। गुड नाईट!

सोते हुए को जगायेंगे हम; आपकी नींद को चुरायेंगे हम; हर वक्त SMS कर सतायेंगे हम; आपको आयेगा गुस्सा लेकिन; उस गुस्से में ही याद तो आयेंगे हम। शुभ रात्रि!

मिलने आयेंगे हम आपसे ख्वाबों में; ज़रा रौशनी के दिये बुझा दीजिए; अब और नहीं होता इंतज़ार आपसे मुलाकात का; ज़रा अपनी आँखों के परदे तो गिरा दीजिए। शुभ रात्रि!

मेरी हर रात में आपको याद होती है; चाँद तारों से रोज यही बात होती है; मेरे ख़्वाबों में बिलकुल न आना आप; क्योंकि डरावनी सूरत से हमारी नींद ख़राब होती है। शुभ रात्रि।

दर्द आपके इंतज़ार का हम चुपचाप सहते हैं; क्योंकि आप हर पल हमारे दिल में रहते हैं; ना जाने हमें नींद आयेगी भी कि नहीं; लेकिन; आप ठीक से सो सकें इसलिए आपको गुड नाईट कहते हैं। शुभ रात्रि!

कल की हसीन मुलाक़ात के लिए; आज रात के लिए; हम तुम जुदा हो जाते हैं; अच्छा चलो सो जाते हैं। शुभ रात्रि!

वो तेरा नहीं वो किसी और का है; ऐ दोस्त चुप करके सो जा; रात रोने के लिए नहीं सोने के लिए है। शुभ रात्रि!

चाँद का कलर है वाइट; रात को चमकता है ब्राइट; हमको देता है मस्त लाइट; कैसे मैं सूओं बिना कहे गुड नाईट ।