सूरज आग उगलता है सहना धरती को पड़ता है
मोह्हबत निगाहे कराती है सहेना दिल को पड़ता है

इंसान की फितरत को समझते हैं ये परिंदे,
कितनी भी मोहब्बत से बुलाना मगर पास नहीं आयेंगे

मुझे तलाश है एक रूह की जो मुझे दिल से प्यार करे
वरना जिस्म तो पैसो से भी मिल जाया करते है.

वो अपनी गली की रानी होने का गरूर करती है...नादान!
ये नहीँ जानती कि हम उसी शहर के बादशाह है....
=RPS

मैं कभी बुरा नहीं था उसने मुझे बुरा कह दिया
फिर मैं बुरा बन गया ताकि उन्हें कोई जुठा न कह सके

प्यार की अनदेखी सूरत आप है
मेरी जिंदगी की ज़रूरत आप है
खूबसूरत तो फूल भी बहुत है
मगर मेरे लिए फूल से भी खूबसूरत आप है

प्रेमी: तुम शादी के बाद अपने लिये नया घर तो नहीं मांगोगी? प्रेमिका: नहीं मैं ऐसी लड़की नहीं हूँ तुम अपनी माँ को अलग घर दिला देना!

लिखा था राशि में आज खजाना मिल सकता हे
की अचानक गली में दोस्त पुराना दिख गया

बुजदिल हें वो लोग जो मोहब्बत नहीं करते,
बहुत हौसला चाहिए बर्बाद होने के लिए ।

मेरा गुस्ताख़ दिल तेरी ज़रा बदमाश सी आंखें
अभी भी प्यार करने की बहुत वज़हें बची हैं
G.R..s

मेरा हर लम्हा चुराया आपने; आँखों को एक ख्वाब देखाया आपने; हमें ज़िन्दगी दी किसी और ने; पर प्यार में जीना सिखाया आपने!

चाँद ने की होगी सूरज से महोब्बत इसलिए तो चाँद मैं दाग है
मुमकिन है चाँद से हुई होगी बेवफ़ाई इसलिए तो सूरज मैं आग है

उस पगली‬ को‬ क्या पता जिस मंदिर में वो मेरी मौत की दुआ मांगती है
उस मंदिर में मैने अपनी जान गिरवी पर रखी है उसे पाने के लिए

कभी खुशी की आशा, कभी गम की निराशा कभी खुशियों की धूप, कभी हक़ीक़त की छाया
कुछ खोकर कुछ पाने की आशा शायद यही है ज़िंदगी की सही परिभाषा

बरसात की जरूरत हर रेगिस्तान को होती है
सितारों की जरूरत हर आसमान को होती है
आप हमें भूल मत जाना क्युँकी सच्चे प्यार की जरूरत हर इन्सान को होती है